Online/Offline Marketing & Supporting System +91 8109108219, 8349555700
default-logo

संजर से अजमेर का सफ़र – पार्ट 2

दास्ताने हुज़ूर ख़्वाजा ग़रीब नवाज़ रदिअल्लाहू तआला अन्हु को इस बार एक नये अंदाज़ में किसी किस्से की मानिंन्द  लिखने की कोशिश की है, इसमें अगर कुछ बेअदबी खता हो जाये, तो  माफ़ी का तलबगार हूँ। यूँ तो हुज़ूर ख़्वाजा ग़रीब का ज़िक्र उनके दौर के हर खास ओ आम की जुबां पर ही रहा करता था, उस वक...
Read More →

Chattisgarh : रियल हीरो की तलाश …

  छत्तीसगढ़ में अनुकरणीय कार्य करने वाले कम से कम 5 व्यक्ति या संस्था का नाम का सुझाव दीजिए। अंतिम तारीख 10 फरवरी 2019।   Suggest 5 individuals/Organization across Chattisgarh doing commendable and inspiring work in any field. Looking for Heroes who are doing real ground...
Read More →

संजर से अजमेर का सफ़र – पार्ट 1 

  ‘इलाही जाऊ कहाँ होके मै तेरा मंगता, मेरे मोईन मदद कर, मदद कर मेरे दाता, मुईने दी, शहन्शाहे औलिया के वास्ते’ शुक्रअलहम्दुलिल्लाह // हम गरीबोँ, लाचारो, बेसहारो, मजबूरो  के मददगार, हमारे हाजतरवा, मुश्किलकुशा, सुल्ताने जूदो सखा,  ख़ुलुसो मोहब्बत के पैकर, मुर्शिदे का...
Read More →