Online/Offline Marketing & Supporting System +91 8109108219, 8349555700
default-logo

चिश्तिया रंग में डूब गए सारे दीवाने ख्वाजा की महफ़िल में

रायपुर में सुफियान क़व्वाली का सफल आयोजन आशिक-ए-गरीब नवाज़ कमेटी रायपुर  ने बड़े ही अदब व एहतराम के साथ किया। ख्वाजा की शान में दिल्ली से आए इंटरनेशनल कव्वाल सुल्तान उस्मान नियाज़ी ने अपनी टीम के साथ बेहतरीन कलामों को पेश किया,जिससे ख्वाजा के दीवाने इस महफ़िल में चिश्तिया रंग में डूबते नज़र आए।

ख्वाजा जी की महफ़िल में चिश्तिया रंग में डूब गए सारे दीवाने।

कमेटी के संचालक हाजी नईम राजा संजरी ने बताया कि हर साल की तरह इस बार भी कमेटी की ओर से ख्वाज़ा गरीब नवाज़ की शान में सुफियान कव्वाली का आयोजन किया गया। लेकिन इस बार प्रोग्राम के लिए जगह में फेरबदल किया गया था। दरअसल सुप्रीम कोर्ट के आदेश का सम्मान करते हुए हमने चाँदशाह अली दरगाह के बाजू नलघर चौक के पास जेएन पांडे हाई स्कूल हॉल रायपुर छत्तीसगढ़ में प्रोग्राम के सफल आयोजन का फैसला लिया। इस प्रोग्राम में महिलाओं के लिए अलग से इंतेज़ाम किये गए। इस दौरान बड़ी तादाद में ख्वाजा के दीवाने मौजूद रहे। प्रोग्राम की शुरआत एक 11साल के बच्चे अयान सिद्दीकी से की गई, जिसने नन्हीं सी उम्र में शहनाई वादन किया। और पूरी महफ़िल को अपने संगीत पर झूमने को मजबूर कर दिया। महफिले क़व्वाली के बाद दुआ(प्रार्थना)भी की गई। वहीँ सूफी ख्वाज़ा मोईनुद्दीन चिश्ती की चादर शरीफ भी ज्यारत के लिये रखी गई थी ।

महफिले क़व्वाली को सुनने धर्म गुरु भी मौजूद थे।

1) सैय्यद रफीक बाबा मलंग (गुजरात)।

2) आले नबी औलादे अली सैय्यद अशरफ मुहम्मद अशरफी उल जिलानी। 

(शाहजादा ए काजी ए छत्तीसगढ़)

Main guest of programme

इस मौके पर कमेटी के सदस्य हाजी रफीक, सलीम खान, आरिफ मदारी, शाहनवाज़, इरफ़ान रज़ा, एज़ाज़ मेमन, फरहान संजरी, जिशान, रेहान, कासीम, मोईन समेत बड़ी तादाद में लोग मौजूद रहे। संजरी फैमली आप सभी का दिल से शुक्रिया अदा करती है।

17498468_729701290543577_3637022310910971370_n     Simpli Life Online Sharing

PLEASE LIKE THIS VIDEO ON YOUTUBE

17498909_729701220543584_959345369084236354_n 17522605_729701087210264_831451453605751728_n

17523391_729701270543579_8746794801770550816_n Niyazi Brother Perform in Raipur IMG-20170326-WA0004

आज ही अपने परिवार को दें ये जरूरी जानकारी…

 25 दूल्हों की बारात शहर में निकली एकसाथ…

हादसे के बाद हिन्दू मुस्लिम एकता की मिसाल…

About the Author

Leave a Reply

*

captcha *