Online/Offline Marketing & Supporting System +91 8109108219, 8349555700
default-logo

पहली दफा थाने में किसी मंत्री को रोते देखा!

  उस दिन पासपोर्ट के वेरिफिकेशन के लिए थाने पहुँचा। लेकिन जिस सिपाही को यह काम करना था वो जरूरी काम से थाना प्रभारी के साथ मीटिंग का हिस्सा बने बैठे थे। मतलब मौके पर मौजूद नहीं थे। इस बीच मैं इंतेज़ार रहा था कि एक दूसरा सिपाही बड़े ही श्रद्धा से थाने की चौखट को छूकर म...
Read More →

जेब में पारले-जी बिस्कुट लेकर दफ्तर जाना

रिपोर्टर हरिराम ऑफिस से निकला। बेसमेंट में संपादक की कार के पास खड़ा हो गया। इधर-उधर सीसीटीवी कैमरे की नज़र से बचकर यहां तक आया। जेब से कील निकाली और संपादक तोपचंद की कार में खरौंचे मारने लगा। अब आप अंदाजा लगाइए कि कितना ज्यादा भरा पड़ा बैठा था हरिराम।     दिल ...
Read More →

इस तरह कम हो सकती है इंटरनेट की जरुरत

हममें से कइयों का बचपन गिल्ली डंडों, पतंगों, कंचों, कैरम, लूडो आदि खेलों में बीता। अगर हम आज की बात करें तो अब हम डिजिटल लाइफ में जी रहे हैं। अब हम लूडो, कैरम भी बच्चों को मोबाइल पर खेलते देख सकते हैं। दुनियाभर में #Android स्मार्टफोन इस्तेमाल करने वालों की संख्या बढ़ती जा रही है।...
Read More →